सर्वकालिक महान भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ट्विटर पर शनिवार की सुबह जानकारी देते हुए उन्होंने लिखा, ‘मैं लगातार टेस्ट करवा रहा था, साथ ही सारे दिशा-निर्देशों का पालन भी कर रहा था हालांकि हल्के लक्षणों के साथ मुझे पॉजिटिव पाया गया है। घर में अन्य सभी की रिपोर्ट निगेटिव आईं हैं। मैंने खुद को क्वारंटीन कर लिया है और सारे प्रोटोकॉल्स का पालन भी कर रहा हूं। डॉक्टर्स की सलाह पर अमल कर रहा हूं। मेरा और विभिन्न देशों में लोगों का ख्याल रख रहे तमाम स्वास्थ्यकर्मियों का धन्यवाद भी करना चाहता हूं।’

Sachin Tendulkar

Sachin Tendulkar रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में कप्तानी संभाल रहे थे

बता दें कि सचिन तेंदुलकर हाल ही में रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में इंडिया लीजेंड्स की कप्तानी का दारोमदार संभाल रहे थे, जिसमें भारत ने श्रीलंका को फाइनल में मात देकर खिताब अपने नाम किया था। यह सभी मैच रायपुर में हुए थे। सचिन को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। उन्होंने अपने करियर के दौरान वनडे में 15,921 और टेस्ट में 18,426 रन बनाए हैं। सभी प्रारूपों को मिलाकर सचिन के नाम 100 अंतरराष्ट्रीय शतक हैं।

Sachin Tendulkar

सचिन तेंदुलकर के नाम वनडे क्रिकेट में पहला दोहरा शतक जड़ने का रिकॉर्ड है। 24 फरवरी 2010 को सचिन ने वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट का पहला दोहरा शतक जड़ा। उनसे पहले कई बल्लेबाज 200 रन के आंकड़े के करीब जरूर पहुंचे, लेकिन कोई भी बल्लेबाज इस जादुई आंकड़े को पार नहीं कर पाए। सचिन के बाद वीरेंद्र सहवाग ने 2011 में 219 रन की पारी खेली, जबकि 2013 में रोहित शर्मा ने 209 रन बनाए।

महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना के सबसे अधिक मामले

सचिन के गृहराज्य महाराष्ट्र में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। बीते 24 घंटे में ही सूबे में 36 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 26,37,735 हो गई। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि राजधानी मुंबई में दिनभर में संक्रमण के 5,515 नए मामले सामने आए। राज्य में 17,019 और लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 23,00,056 हो गई है। उपचाराधीन रोगियों की संख्या 2,82,451 है।

इसे भी पढ़ें: Saina Nehwal: परिणीति चोपड़ा की फिल्म “साइना” सिनेमाघरों में हुई रिलीज, आइए जानते हैं क्या है कहानी

राज्य सरकार ने संक्रमण की कड़ी तोड़ने के उद्देश्य से 28 मार्च से रात में कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने संभागीय आयुक्तों, जिला कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों और मेडिकल कॉलेज के डीन के साथ राज्य में कोविड-19 स्थिति की समीक्षा की। बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से अस्पतालों में पर्याप्त बिस्तर और दवाइयों की उपलब्धता को सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.