8 December भारत बंद: केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने 8 December भारत बंद का ऐलान किया है। पिछले 11 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसान संगठन और सरकार के बीच बातचीत से अब तक कोई नतीजा नहीं निकल रहा है। सरकार और किसान संगठनों के बीच 9 दिसंबर को बातचीत होगी, लेकिन उससे पहले किसान संगठन नेे भारत बंद की घोषणा करते हुए सभी लोगों को शामिल होने का अनुरोध किया है। इस बीच  कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स और ट्रांसपोर्ट सेक्टर के शिखर संगठन ऑल इंडिया ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन ने भी हड़ताल में शामिल होने का फैसला लिया है। आइए जानते हैं मंगलवार को क्या-क्या रहेगा बंद।

8 December को रहेगा यह सब बंद

8 दिसंबर भारत बंद

किसान संगठन के नेता बलदेव सिंह ने कहा कि यह आंदोलन सिर्फ पंजाब के किसानों का नहीं पूरे देश का है। आंदोलन को मजबूत बनाने के लिए भारत बंद का ऐलान किया गया जो 8 बजे सुबह से लेकर शाम 3 बजे तक चलेगा। इस बीच हरियाणा, राजस्थान और पंजाब की मीडिया मंडिया बंद रहेगी। सभी दुकानें और कारोबार भी बंद रहेंगे। ऑटो और टैक्सी संघों ने भी केंद्र के नए कृषि कानूनों के विरोध में 8 दिसंबर को भारत बंद में हिस्सा लेंगे। बताया जा रहा है कि एंबुलेंस सेवाओं को छूट रहेगी और शादी कार्यक्रम में भी छूट रहेगी।https://www.fastkhabre.com/china-ने-बनाया-नकली-सूरज/

8 December को लेकर बलदेव सिंह ने कहा

8 दिसंबर को शांतिपूर्ण तरीके से बंद किया जाएगा। वही किसान संगठनों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि सरकार उनकी मांगे नहीं मानेंगे तो यह आंदोलन और बढ़ जाएगा और दिल्ली जाने वाली सड़को को भी बंद कर दिया जाएगा। गुजरात के लगभग 250 किसान बंद को समर्थन देने दिल्ली आएंगे।वही योगेंद्र यादव ने कहा कि हम अपने रुख पर सदैव अड़े हैं। हमने हमेशा मांग की है कि सरकार तीनों कृषि कानून को वापस ले।

कांग्रेश, राकांपा, सपा, शिवसेना और भी अन्य राजनीतिक पार्टियों ने केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों के भारत बंद का समर्थन जताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.