लाहौर: पाकिस्तान के धार्मिक नेता मौलाना फजलुर रहमान ने प्रधानमंत्री इमरान खान को इस्तीफा देने के लिए 2 दिन की मोहलत दी। उन्होंने इमरान खान को पाकिस्तान का गोर्बाचोव बताते हुए कहा कि वह शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों की परीक्षा लिए बिना अपना पद छोड़ दें।

एक रैली को संबोधित करते हुए रहमान मौलाना ने कहा कि पाकिस्तान के लोगों को इस देश पर शासन करने का अधिकार है। हम इस फर्जी सरकार से मुक्ति लेकर रहेंगे। उन्होंने कहा कि इस सरकार से छुटकारा पाने के लिए अभियान शुरू कर दिया है। अब इस अंजाम को मुकाम तक पहुंचाने के लिए एकजुट विपक्ष देश की अर्थव्यवस्था को 6 महीने में सही करके दिखाएंगे।

अरबों रुपए के चीनी घोटाले

आपको बता दें कि पाकिस्तान के शीर्ष जांच निकाय अरबों रुपए के चीनी घोटाले के सिलसिले में विपक्षी नेता शहबाज शरीफ, इमरान खान और तीन अन्य नेताओं के खिलाफ केस दर्ज की है। जांच एजेंसी ने रविवार को पाकिस्तान मुस्लिम लीग के अध्यक्ष शाहवाज शरीफ उनके बेटे हमजा और सुलेमान और प्रधानमंत्री इमरान खान के मित्र जहांगीर एवं उनके बेटे अली तरीन के खिलाफ केस दर्ज किया है। इन लोगों पर जालसाजी और विश्वासघात और सरकारी शेयर धारकों के साथ धोखाधड़ी को लेकर केस दर्ज किया गया है।

अली तरीन और उनके बेटे पर 4.35 अरब रुपए के धोखाधड़ी का आरोप लगा है। शाहवाज और उनके बेटे पर 25 अरब रुपए का आरोप लगा है। कुछ दिन पहले तरीन के जेडीडब्ल्यू शुगर मिल्स, फारुकी पल्प मिल्स और शाहवाज के अल-अरबिया शुगर मिल्स के ऊपर दर्ज किए गए खामियों पर एफ आई ए में दर्ज मामले को खारिज कर दिया गया था।

रहमान का कहना है कि 25 जुलाई का चुनाव फर्जी है। पिछले 1 साल से यह सरकार है। लेकिन अब हम इसे सत्ता में नहीं देखना चाहते हैं। उन्होंने कहा खान के नेतृत्व वाली पार्टी ने अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। जिससे देश का भविष्य खतरे में है। उन्होंने ये भी कहा कि इमरान खान को 2 दिन का समय दिया गया है। उसे इस्तीफा देने के लिए उन्होंने कहा अगर इस्तीफा नहीं दिया, तो आगे की रणनीति तय की जाएगी। एफ आई  ए ने इस मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *