नई दिल्ली: आईपीओ में पैसा लगाने वाले निवेशकों के लिए आज फिर एक और कमाई का मौका खुल गया है। इंडियन रेलवे फाइनेंस कारपोरेशन (IRFC) का IPO 18 जनवरी 2021 से ओपन हो गया और 20 जनवरी 2021 को बंद होगा। 2021 में बंपर कमाई करने का यह पहला मौका है। गौरतलब है कि IRFC ( Indian  railway finance corporation) का ये IPO देश में किसी भी नॉन बैंकिंग फाइनेंसियल कंपनी (NBFC) का पहला आईपीओ है। रेलवे के इस आईपीओ को भी IRCTC के तहत देखा जा रहा है। निवेशकों को उम्मीद है कि आईआरएफसी का ये आईपीओ भी शानदार रिटर्न देगा। यदि आप भी इसमें निवेश करना चाहते हैं तो इसकी पूरी जानकारी लें।

Indian railway finance corporation ipo today

आइए जानते हैं IRFC (Indian railway Finance Corporation) के बारे में,

आईआरएफसी की स्थापना 1986 में हुई थी। कंपनी का प्रमुख कारोबार वित्तीय बाजार से धन जुटाकर अधिग्रहण या संपत्तियो के सृजन के लिए आर्थिक मदद प्रदान करना है, बाद में ये संपत्तियां भारतीय रेल को पट्टे पर दी जाती है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अप्रैल 2017 में रेलवे की पांच कंपनियों को लिस्टिड कराने की मंजूरी दी थी। इनमें चार कंपनियों इंटरनेशनल लिमिटेड, राइट्स लिमिटेड, रेल विकास निगम लिमिटेड और इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन पहले ही लिस्टिड हो चुकी है।

कम से कम 575 शेयर खरीदने होंगे

अगर आप Indian railway finance corporation ipo में पैसा लगाने की सोच रहे हैं तो बता दे कि आप को कम से कम 575 शेयर खरीदे होंगे। गौरतलब है कि देश में किसी भी नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC) का पहला IPO है, जो पब्लिक होने जा रही है। कोई भी निवेशक ज्यादा से ज्यादा 13 लॉट के लिए आवेदन कर सकता है। एक लाॅट में 575 शेयर हैं। यानी आपको कम से कम 14375 से 14950 रुपए इस आईपीओ में निवेश करने होंगे। इसमें एक निवेशक अधिकतम 1,86,875 से 1,94,350  रुपए ही निवेश कर सकता है।

IRFC के इश्यू के लीड मैनेजर DAM कैपिटल एडवाइजर्स, HSBC सिक्योरिटीज एंड कैपिटल मार्केट्स इंडिया, ICICI सिक्योरिटीज और SBI कैपिटल मार्केट्स है। इसके अलावा कंपनी इस आईपीओ के जरिए 4600 करोड़ रुपए जुटाने का प्लान बना रही है। इस आईपीओ के बाद कंपनी में सरकार की हिस्सेदारी घटकर करीब 86.4 फ़ीसदी रह जाएगी। आईआरएफसी के आईपीओ में 1,78,20,69,000 यानी करीब 178 करोड़ शेयर जारी किए जा रहे हैं। इसमें 1,18,80,46,000 यानी करीब 118 करोड़ शेयर तो फ्रेश है। जबकि 59,40,23000 यानी करीब 59.4 करोड़ शेयर ऑफर फार सेल के लिए रखे जा रहे हैं।

गौरतलब है कि इस इश्यू में 50 लाख शेयर IRFC के कर्मचारियों के लिए सुरक्षित रखे गए हैं। कंपनी IPOIPO से जुटाए फंड का इस्तेमाल बिजनेस के ग्रोथ के लिए भविष्य में पूंजी की जरूरतों और अपने कारपोरेट खर्चों को पूरा करने में उपयोग में लेगी। गौरतलब है कि रेलवे विभाग की इंडियन रेलवे कैटरिंग टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) पहले ही IP0 ला चुकी है। जबकि Railtel का आईपीओ जल्द आने वाला है। इसका भी निवेशकों को बेसब्री से इंतजार है।

IRFC में निवेश फायदेमंद

विश्लेषकों का कहना है कि IRFC का बिजनेस मॉडल खास है। इसलिए इसकी वैल्यूएशन की तुलना दूसरे पैमानों पर नहीं की जा सकती। हालांकि इसके वित्तीय नतीजों और संभावना को देखते हुए लगता है कि यह आईपीओ अंडरवैल्यूड है। अगर रेल मंत्रालय कंपनी से जुड़े किसी नीतिगत फैसलों में कोई बदलाव करता है तो इसके मुनाफे पर असर पड़ सकता है। कुछ विश्लेषकों का मानना है कि आईआरएफसी का इश्यू प्राइस आकर्षक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.