कोरोना वायरस के बढ़ते संकट के बीच दिल्ली में एक बार फिर सख्ती लागू की गई हैं। दिल्ली में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन (Lock Down In Delhi Again) लगाया गया है, ये आज रात से लागू होगा। जिसमें बेवजह बाहर निकलने पर मनाही होगी। लेकिन जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को छूट मिल सकती है। इस एक हफ्ते के लॉकडाउन में भी अधिकतर वही नियम लागू होंगे, जो वीकेंड लॉकडाउन के दौरान लागू हुए थे।

Lock Down In Delhi Again

Lock Down In Delhi Again शादियों में ज्यादा से ज्यादा 50 लोग शामिल होगे

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस बात की जनकारी दी है। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए ऐसा फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि मैंने जनता को कभी गलत जानकारी नहीं दी।मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बताया कि शादियों में ज्यादा से ज्यादा 50 लोग शामिल हो सकेंगे। समारोह में शामिल होने वालों के लिए पास जारी किया जाएगा। जिन लोगों को पास मिलेगा वही लोग शादी समारोह में शामिल हो सकते हैं।

Lock Down In Delhi Again

अरविंद केजरीवाल ने प्रवासी मजदूरों से खास अपील की। उन्होंने कहा कि मैं खासतौर पर हाथ जोड़कर अपील करना चाहता हूं कि यह छोटा सा लॉकडाउन है, 6 दिन का। दिल्ली छोड़कर न जाइएगा। आपके आने-जाने में ही इतना पैसा और समय खत्म हो जाएगा। दिल्ली में रहिए। मुझे उम्मीद है कि यह छोटा लॉकडाउन है और छोटा ही रहेगा। मुझे पूरी उम्मीद है कि शायद बढ़ाने की जरूरत न पड़े। आप दिल्ली में रहिए। यकीन मानिए हम पूरी ईमानदारी के साथ सब मिलकर लड़ेंगे।

दिल्ली में रोज 25-25 हजार केस आ रहे

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने सोमवार लॉकडाउन की घोषणा करते हुए कहा कि दिल्ली में संक्रमण दर बहुत बढ़ गया है। 25-25 हजार केस रोज आ रहे हैं। बेड और ऑक्सीजन की भारी कमी हो रही है। दिल्ली के एक हॉस्पिटल में ऑक्सीजन अचानक से खत्म हो गया एक बड़ा हादसा हो सकता था। जैसे-तैसे इंतजाम किया गया। नहीं तो बहुत बड़ा हादसा हो जाता।

इसे भी पढ़ें: नीरव मोदी को जल्द भारत लाया जाएगा, यूनाइटेड किंगडम के गृह मंत्री ने भी प्रत्यर्पण की मंजूरी दे दी

अभी तक हमने दिल्ली के अंदर हेल्थ सिस्टम को अच्छे से मैनेज किया है। दिल्ली में कोरोना की यह चौथी लहर है। अब 25 हजार केस आए हैं। किसी भी सिस्टम की अपनी सीमाएं हैं। अब इसके बाद अगर कोई कठोर कदम नहीं उठाए गए तो हेल्थ सिस्टम ठप हो जाएगा।

Lock Down In Delhi Again ID दिखाने पर मिलेगी छूट

केंद्र व दिल्ली सरकार के अधिकारी पीएसयू व निगमों के अधिकारी स्वास्थ्य विभाग पुलिस जेल अधिकारी-कर्मचारी होमगार्ड सिविल डिफेंस अग्निशमन इमरजेंसी सेवाएं जिला प्रशासन पे व अकाउंट परिवहन कर्मचारी (हवाई सेवा, रेल व बस कर्मचारी) नगर निगम, बिजली, पानी, सफाई विभाग व आपदा प्रबंधन विभाग के कर्मचारी पूरी क्षमता से काम करेंगे। दिल्ली सरकार ने न्यायिक सेवा अधिकारी कोर्ट में कार्यरत अधिकारियों, डॉक्टर, नर्स, पारामेडिकल स्टाफ, क्लिनिक व अस्पताल के कर्मचारी को आई कार्ड दिखाने पर आने जाने की अनुमति दी है। प्रिंट मीडिया व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों को आई कार्ड दिखाने पर आवागमन की छूट दी गई है। गर्भवती महिला को आने जाने की छूट होगी एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन या बस अड्डे से निकलने वाले यात्री अपना यात्रा टिकट दिखाकर आवागमन कर सकेंगे। ऑटो में दो सवारी  50 फीसद यात्रियों के साथ मेट्रो और बसों के संचालन

इसे भी पढ़ें: भारतीय मौसम विभाग की ओर से मानसून को लेकर आई अच्छी खबर, आइए जानते हैं कब कितनी बारिश होगी

सप्ताहंत कर्फ्यू के दौरान सार्वजनिक परिवहन बंद नहीं होगा। मेट्रो, बसों के साथ साथ ऑटो, टैक्सी व ग्रामीण सेवा आदि के वाहन चलते रहेंगे। मगर इन वाहनों में यात्रा करने की अनुमति उन्हें लोगों को होगी जिन्हें कर्फ्यू से छूट मिली है। शादी समारोह में अगर कोई जा रहा है तो उसे ई पास दिखाना होगा। इसके अलावा जिन्हें छूट मिली है उन्हें अपना परिचय पत्र दिखाना होगा।

खाने पीने संबंधी दुकानदार,मछली, फल, सब्जी, डेयरी व मिल्क बूथ के कर्मचारी, दवा दुकान के कर्मचारी, बैंक, बीमा व एटीएम कर्मचारी टेलीकॉम, इंटरनेट व केबल सर्विस के कर्मचारी पेट्रोल पंप, सीएनजी, एलपीजी व गैस रिटेल संबंधित कर्मचारी बिजली उत्पादन व वितरण संबंधी कर्मचारी कोल्ड स्टोरेज व वेयर हाऊस कर्मचारी आवश्यक उपभोक्ता सामान के निर्माण से जुड़े कर्मचारी कोरोना का वैक्सीन लगवाने जाने वाले लोगों के आवागमन पर होगी छूट

Leave a Reply

Your email address will not be published.