मध्यप्रदेश के रतलाम शहर को दहला देने वाली ट्रिपल मर्डर केस में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं। कई सीसीटीवी कैमरों की मदद से पुलिस को आरोपियों का होलिया पता चला है। पुलिस ने स्पष्ट किया है कि हत्या में दो आरोपी शामिल थे। जो सीसीटीवी में कैद हो गए।

पुलिस ने बताया कि हत्यारोपी घटना के बाद मृतक परिवार के मकान के बाहर खड़े स्कूटर को लेकर भागे थे।पता चला है कि एक स्कूटर आरोपियों का था। जबकि दूसरा स्कूटर मृत परिवार के किराएदार का था। जिसकी चाबी मृतक के पास ही थी।

मामला शहर के औद्योगिक थाना क्षेत्र का है। जहां गुरुवार को राजीव नगर के एक मकान से एक ही परिवार के तीन लोगों कि पति पत्नी और बेटी की लाश मिली थी। उन तीनों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिला पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि राजीव नगर में गोविंद सोलंकी ‌(50) उनकी पत्नी शारदा (45) और उनकी बेटी (21) के शव बृहस्पतिवार को उनके घर में मिले। तीनों की गोली मारकर हत्या की गई है। उन्होंने बताया कि आसपास के लोगों ने सोलंकी के घर में कोई हलचल नहीं होने पर वहां जाकर देखा तो दंपत्ति और उनकी बेटी खून से लगभग मृत अवस्था में दिखी।

एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि इस ट्रिपल मर्डर केस में पुलिस के हाथ कई सुराग लगे हैं। जिनका जल्द खुलासा किया जाएगा, साथ ही उन्होंने बताया कि इस केस को जल्द सुलझाने के लिए एक सौ पुलिसकर्मियों की एक टीम बनाई गई है।

गुरुवार को दिनभर की कवायद के बाद रात में भी पुलिस की तफ्तीश जारी रही। एसपी गौरव तिवारी खुद टीम को निर्देश दे रहे हैं। शुक्रवार की सुबह एसपी गौरव तिवारी खुद औद्योगिक क्षेत्र थाने पहुंचे और इस केस से जुड़ी सारी जानकारी हासिल की।

किराएदार ने पहले देखा शवों को 

सुबह मृतक के किराएदार ने घर के दरवाजे खुले देखें। जब वह अंदर गया तो तीनों के सब जमीन पर पड़े हुए थे जिसके बाद उसने तत्काल घटना की जानकारी पुलिस को दी।

पुलिस को संदेह है कि अज्ञात आरोपी ने बुधवार को देव उठनी एकादशी के पर्व पर लोगों द्वारा चलाए गए पटाखों की आवाज के द्वारा इस वारदात को अंजाम दिया। तिवारी ने बताया कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया है। प्राथमिक तौर पर ऐसा लगता है कि आरोपी पीड़ित परिवार को जानते थे और घर की स्थिति से भी परिचित थे। अधिकारी ने कहा कि पुलिस मामले का खुलासा करने के लिए विस्तृत जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *