पंजाब नेशनल बैंक घोटाले (PNB Scam) के मुख्य आरोपी और भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) को भारत लाने का रास्ता साफ हो गया है। फरवरी में लंदन कोर्ट से नीरव के प्रत्यर्पण की मंजूरी मिलने के बाद आज यूनाइटेड किंगडम (UK) के गृह मंत्री ने भी प्रत्यर्पण की मंजूरी दे दी है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मोदी पर अपने मामा मेहुल चोकसी के साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक से धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी फिलहाल लंदन की एक जेल में बंद है। नीरव करीब 2 अरब डॉलर (करीब 12 हजार करोड़) के पीएनबी घोटाले में वांक्षित है। नीरव मोदी के पास प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील के लिए 14 दिन का समय है।

Nirav Modi

नीरव मोदी को भारत प्रत्यर्पण करने के लिए लंदन की अदालत ने 25 फरवरी को आदेश जारी किए थे। अब नीरव मोदी को इस फैसले के खिलाफ 14 दिनों के भीतर हाई कोर्ट के सामने अपनी अपील दाखिल करनी होगी वरना उन्हें भारत भेज दिया जाएगा।

डेढ़ साल लंदन की जेल में बंद

सीबीआई के एक आला अधिकारी ने बताया की नीरव मोदी पिछले डेढ़ साल से ज्यादा समय से लंदन की जेल में बंद है। भारतीय जांच एजेंसियों ने इंटरपोल की मार्फत पहले नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी के इंटरपोल रेड कॉर्नर नोटिस जारी कराए थे। जिनके आधार पर नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार किया गया था।

Nirav Modi

अपनी गिरफ्तारी के बाद नीरव मोदी ने भारतीय एजेंसियों के दावे को अदालत में चुनौती दी थी और अपनी जमानत याचिका भी दाखिल की थी। लंदन कोर्ट ने भारतीय जांच एजेंसियों के वकील और नीरव मोदी के वकील की दलील सुनने के बाद नीरव मोदी की जमानत याचिका खारिज कर दी थी और उसे जेल में ही रखने के आदेश दिए थे।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में लगा वीकेंड कर्फ्यू, शादी समारोह में 50 लोग ही शामिल

सीबीआई के आला अधिकारी के मुताबिक लंदन होम डिपार्टमेंट की मुखिया प्रीति पटेल ने आज इस फाइल पर अपनी औपचारिक मुहर लगा दी जिसके साथ ही भगोड़े उद्योगपति नीरव मोदी के भारत वापस आने की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। अब नीरव मोदी यदि इस फैसले को सुप्रीम अदालत में चुनौती नहीं देते हैं तो उन्हें अगले 28 दिनों के भीतर वापस भारत भेज दिया जाएगा।

नीरव मोदी (Nirav Modi) को मुंबई के आर्थर रोड जेल में रखा जाएगा

गौरतलब है कि भारत लाने पर नीरव मोदी को मुंबई की आर्थर रोड जेल में रखा जाएगा। जेल प्रशासन ने बताया कि नीरव मोदी को अतिसुरक्षा वाले बैरक नंबर-12 की तीन कोठरियों में से एक में रखा जाएगा। तीनों ही कोठरी में सुरक्षा और कड़ी निगरानी के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। महाराष्ट्र के जेल विभाग ने 2019 में केंद्र को जेल की स्थिति और नीरव मोदी को रखने के लिए सुविधाओं के बारे में जानकारी दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.