नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने लोगों को मोबाइल ऐप्स और फर्जी डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए कर्ज की पेशकश करने वालो को लेकर सतर्क रहने की अपील की है। RBI का अलर्ट बुधवार को एक विज्ञापित में कहा कि ऐसी रिपोर्ट है कि लोग छोटे कारोबारी शीघ्र और बिना किसी झंझट के कर्ज देने का वादा करने वाले अंधी कृत डिजिटल मंच या ऐप के झांसे में फंस रहे हैं। ऐसे में RBI का अलर्ट है कि अगर आप ऐसे लोन लेने के लिए किसी भी मोबाइल ऐप  या डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर अप्लाई करने जा रहे हैं तो हो जाएं सावधान यह रिजर्व बैंक की कड़ी चेतावनी है।https://www.fastkhabre.com/archives/2546

आइए जानते आरबीआई ने क्या चेतावनी दी

RBI का अलर्ट

  • आरबीआई ने लोगों को चेतावनी दी है कि अगर आप फर्जी डिजिटल प्लेटफॉर्म या फिर मोबाइल ऐप के जरिए लोन लेने के लिए अप्लाई कर रहे हैं तो हो जाएं सावधान, क्योंकि आप के डाक्यूमेंट्स का गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है।
  • और अगर आपको बिना पेपर के फटाफट लोन देने का झांसा दिया जा रहा है तो ऐसे में कंपनियों के बारे में पूरी जानकारी जरूर प्राप्त कर लें।
  • आरबीआई ने कहा कि ऐसी कंपनी ग्राहकों से ज्यादा ब्याज वसूलती है, और उसके साथ साथ कई तरह के चार्ज भी वसूलती है जो ग्राहकों को शुरू में पता नहीं चलता। फोन के जरिए भी आपके पर्सनल डाटा का गलत इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • आरबीआई ने लोगों से यह भी अपील की है कि वह केवाईसी(KYC) की कॉपी किसी भी अनऑथराइज्ड लोगों या मोबाइल एप्स के साथ बिल्कुल शेयर ना करें। लोग ऐसे फर्जी एप्स या प्लेटफार्म के बारे में एजेंसियों में शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसके अलावा ऐसे ऐप डिजिटल प्लेटफॉर्म के बारे में ऑनलाइन शिकायत इस पर जाकर https://achet.rbi.org.in भी दर्ज करा सकते हैं।

RBI का अलर्ट इन फर्जी धंधेवाजो की ऐसे करें शिकायत

आरबीआई ने यह भी व्यवस्था दी है कि बैंकों और एनबीएफसी(NBFC) की तरफ से डिजिटल कर्ज मंच का संचालन करने वालों को संबंधित वित्तीय संस्थानों का नाम ग्राहकों के साथ स्पष्ट तौर पर रखना होगा। पंजीकृत और एनबीएफसी के नाम और पता और आरबीआई की वेबसाइट से प्राप्त किए जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.