नई दिल्ली: हर व्यक्ति को उम्र में एक ऐसा पढ़ाव आता है मैं उसे किसी ना किसी की सपोर्ट की जरूरत पड़ती है। ऐसे में बुजुर्गों को घर परिवार से सहारा मिलता है जिससे उनकी जिंदगी आसान हो जाती है। भारत में जनगणना 2011 के अनुसार भारत में करीब 104 मिलियन Senior Citizen है, जिसमें 53 मिलियन महिलाएं और 51 मिलियन पुरुष है। संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या निधि की एक रिपोर्ट से पता चलता है कि भारत में सीनियर सिटीजन की संख्या 2026 तक 173 मिलियन तक बढ़ने की आशंका है। जिसको देखते हुए सरकार उनकी जिंदगी को सरल बनाने के लिए कई कोशिशें करती रहती है।Senior Citizen

उनको सरकार की तरफ से कई योजनाओं और सुविधाओं में छूट दी गई है। अगर आपके घर या परिवार में कोई बुजुर्ग सदस्य हैं तो आप यह जान सकते हैं कि सरकार ने सीनियर सिटीजन के लिए कहां-कहां खास सुविधाएं दी है।

रेल यात्रा में senior citizen को दी गई छूट

भारतीय रेलवे ने Senior Citizen यात्रियों को टिकट में रियायत देता है। सीनियर सिटीजन के लिए व्यक्ति की उम्र 60 साल उम्र सीमा तय है। अगर कोई व्यक्ति 60 साल का है तो उसे भारतीय रेलवे में सभी क्लास के टिकट पर 40% की छूट दी जाती गई है। जिसमें महिलाओं के लिए उम्र सीमा 58 साल है और उन्हें सभी क्लास की टिकट पर 50% की छूट दी गई है। इसके तहत बुजुर्ग व्यक्ति को टिकट खरीदने पर प्रमाण पत्र दिखाना होगा। उसके साथ ही उनके लिए अलग टिकट काउंटर भी उपलब्ध है, और स्टेशनों पर व्हीलचेयर सुविधा भी प्रदान की गई है।

इनकम टैक्स में senior citizen को दी गई छूट

वरिष्ठ नागरिक को को दो श्रेणियों में बांटा गया है जिन व्यक्ति की उम्र 60 से 70 साल है उनको सीनियर सिटीजन कहा जाता है। 80 साल से ऊपर के व्यक्ति को सुपर सीनियर सिटीजन कहां जाता है। जिसमें 60 से 70 वर्ष के बीच के सीनियर सिटीजन को 3 लाख प्रति वर्ष आय पर इनकम टैक्स देने की छूट होती है, और सुपर सीनियर सिटीजन को 5 लाख प्रति वर्ष की इनकम पर टैक्स देने की छूट होती।

हवाई यात्रा में दी गई छूट

सीनियर सिटीजन के लिए हवाई यात्रा करना भी काफी आसान हो गया है। सरकारी कंपनी एयर इंडिया 60 साल से अधिक आयु वाले नागरिकों को टिकट दर में 50 फीसद की छूट दी गई है। यह सुविधा विदेश जाने वाले वरिष्ठ नागरिकों को भी मिलती है। कुछ निजी हवाई कंपनी भी सीनियर सिटीजन को छूट देती है।

Senior citizen को ब्याज दरों में दी गई छूट

सीनियर सिटीजन को बैंक ब्याज दरों में भी छूट देती है। जैसे कि कैनरा बैंक पेंशन धारकों को 12.8 फ़ीसदी की दर पर पर्सनल लोन देता है। वही 60 साल से कम उम्र में के लोगों के लिए बैंक के पर्सनल लोन पर ब्याज दर 15 फ़ीसदी है। रिवर्स मॉर्टगेज वरिष्ठ नागरिकों के लिए बनाई गई स्कीम है जिसके तहत वरिष्ठ नागरिक अपनी संपत्ति बैंक के पास गिरवी रखकर सालाना आय प्राप्त कर सकते हैं। जिसमें 12 से 14 फ़ीसदी ब्याज दर मिलता है।

स्वास्थ बीमा प्रीमियम भुगतान में दी गई छूट

व्यक्ति की जैसे-जैसे उम्र बढ़ती जाती है उनको सेहत से जुड़ी परेशानियां शुरू हो जाती है। जिसको देखकर भारतीय आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 D के तहत Senior Citizen को स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम भुगतान में 50 हजार रुपए तक की छूट मिलती है, साथ ही उनको भी छूट दी जाती है जो अपने माता-पिता के लिए प्रीमियम का भुगतान कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में छूट

60 साल से अधिक के Senior Citizen के लिए एक पेंशन योजना है जिसके अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों को मानसिक पेंशन विकल्प चुनने पर 10 वर्षों के लिए 8% की गारंटी शुदा वापस मिलेगा, अगर वार्षिक पेंशन विकल्प चुने तो 10 साल के लिए 8.3 % की गारंटी शुदा रिटर्न मिलेगी। 2018 में वंदना योजना में निवेश की सीमा दोगुना कर 15 लाख कर दिया गया था। जिसमें निवेश सीमा बढ़ने से वरिष्ठ नागरिकों को प्रतिमाह 10 हजार रुपए तक पेंशन मिल सकेगी।https://www.fastkhabre.com/अफगानिस्तान-महिला-पत्रका/

वरिष्ठ नागरिकों को सरकार की तरफ से प्रॉपर्टी टैक्स में भी छूट मिलती है। इन सबको देखकर पता चलता है कि सरकार सीनियर सिटीजन के लिए विभिन्न प्रकार की सुविधाएं मुहैया करा रही है ताकि वह खुद को समाज में आत्मनिर्भर समझे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *