World Earth Day 2021: हर साल 22 अप्रैल को पर्यावरण संरक्षण के लिए समर्थन प्रदर्शित करने के लिए पृथ्वी दिवस मनाया जाता है। अर्थ डे पहली बार 22 अप्रैल 1970 को मनाया गया। 193 देशों में इसको मनाया जाता है। इसकी स्थापना अमेरिकी सीनेटर जेराल्ड नेल्सन ने 1970 में एक पर्यावरण शिक्षा के रूप की थी। पृथ्वी दिवस का महत्व इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि, इस दिन हमें ग्लोबल वार्मिंग के बारे में पर्यावरणविदों के माध्यम से पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभाव का पता चलता है।

World Earth Day 2021

पृथ्वी दिवस जीवन संपदा को बचाने व पर्यावरण को ठीक रखने के बारे में जागरूक करता है। जनसंख्या वृद्धि ने प्राकृतिक संसाधनों पर अनावश्यक बोझ डाला है, संसाधनों के सही इस्तेमाल के लिए पृथ्वी दिवस जैसे कार्यक्रमों का महत्व बढ़ गया है। ऐसे में आज हम भी आपके लिए पृथ्वी दिवस विशेष मैसेजेस लेकर आए हैं, जिसके जरिए आप लोगों को जागरूक करने के साथ अर्थ डे की शुभकामनाएं भेज सकते हैं।

World Earth Day 2021 पर्यावरण का महत्व बताया

World Earth Day 2021

गूगल के इस डूडल में बताया गया है कि एक पौधा लगाकर कैसे हर कोई खुशहाल भविष्य के लिए बीज लगा सकता है। इस मौके पर गूगल ने कहा कि जिस प्लेनेट को हम घर कहते हैं, वह जीवन का पोषण करता है। हमारा पर्यावरण हमें बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत करता है और बदले में हम से भी कुछ चाहता है।

गूगल ने दिया ये खास संदेश

Google द्वारा बनाए गए Doodle वीडियो में पौधे लगाकर इनका महत्व बताया गया है। इसमें अलग-अलग प्रकार के पेड़ों को दिखाया गया है। इसमें ये बताया गया है कि हम कैसे एक पौधा लगाकर आने वाली पीढ़ियों के लिए फायदा पहुंचा सकते हैं। अर्थ डे के मौके पर गूगल ने अपने संदेश में कहा कि यह दिन एक रिमाइंडर की तरह है जो हमें याद दिलाता है कि हर कोई एक बेहतर प्लेनेट के लिए योगदान कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: शीना बोरा हत्या मामले की आरोपी इंद्राणी मुखर्जी समेत 38 कैदी हुए कोरोना पॉजिटिव

अर्थ डे’ शब्द किसने दिया? ‘पृथ्वी दिवस’ या ‘अर्थ डे’ शब्द को लोगों के बीच सबसे पहले लाने वाले जुलियन कोनिंग (Julian Koenig) थे। साल 1969 में उन्होंने सबसे पहले इस शब्द से लोगों को अवगत करवाया। पर्यावरण संरक्षण से जुड़े इस आन्दोलन को मनाने के लिए उन्होंने अपने जन्मदिन की तारीख 22 अप्रैल को चुना।

कोरोना काल में वर्ल्ड अर्थ डे की थीम

इस बार कोरोना काल में अर्थ डे की थीम है ‘पृथ्वी को फिर से अच्छी अवस्था में बहाल करना’। जिसके लिए उन नेचुरल रिसोर्सेज और उभरती हुई तकनीकों पर ध्यान देना होगा जो दुनिया के पारिस्थिकी तंत्र को फिर से कायम करने में मददगार साबित होंगे।

इसे भी पढ़ें: मोटोरोला आज भारत में अपने दो नए स्मार्टफोन को लॉन्च किया, आइए जानते हैं इनके कीमत और फीचर्स के बारे में

पृथ्वी दिवस को मनाए जाने का वास्तविक लाभ तभी है, जब हम आयोजन को केवल रस्म अदायगी तक ही सीमित न रखें, बल्कि धरती की सुरक्षा के लिए इस अवसर पर लिए जाने वाले संकल्पों को पूरा करने हेतु हरसंभव प्रयास भी करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.