नई दिल्ली: भारतीय तीरंदाज अतनु दास (Atanu Das) ने ओलिंपिक चैंपियन के उड़ाए होश, तीरंदाजी के प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचे टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने के लिए एक कदम आगे बढ़ गए हैं। अतनु दास का तीरंदाजी में शानदार प्रदर्शन से पुरुषों की व्यक्तिगत स्पर्धा के तीसरे दौर में जगह बना ली। अतनु ने इस मुकाबले में कोरिया को जिन्येक ओह को शिकस्त दी। अतुन ने यह मुकाबला 6-5 से जीता। यह मैच शूटआउट तक पहुंचा जिसमें कोरिया के खिलाड़ी ने 9 और अतनु ने 10 का स्कोर हासिल किया। तीसरे दौर में अतनु दास का मुकाबला जापान के ताकाहारू फुरुकावा से होगा।

अतुन दास का तीरंदाजी में शानदार प्रदर्शन

युमेनोशिमा फाइनल फील्ड पर अतनु को हवा से सामंजस्य बैठाने में थोड़ी परेशानी हुई, लेकिन वह अहम समय पर धैर्य बरकार रखते हुए जीत दर्ज करने में सफल रहे। अतनु दास के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी दिखी, उन्होंने अपने से कम रैंकिंग वाले चीनी ताइपे के यू चेंग डेंग पर पहले दौर में जीत के दौरान विरोधी खिलाड़ी को वापसी के मौके दिए, लेकिन ओ जिन्ह्येक के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया।

अतनु दास का तीरंदाजी में शानदार प्रदर्शन

अपने शानदार प्रदर्शन से अतनु दास ने पुरुषों की तीरंदाजी की व्यक्तिगत स्पर्धा में अंतिम 32 का मुकाबला जीत लिया। उन्होंने इस मैच में चीनी ताइपे के ताइपे के देंग यू चेंग को 6-4 से पटखनी दी। इस जीत के साथ वह अंतिम 16 में पहुंचे। अतनु ने पहले सेट में 27, तीसरे सेट में 28 और चौथे में 27 और पांचवें में 28 का स्कोर किया। जबकि देंग यू चेंग पहले सेट में 26, दूसरे सेट में 28, तीसरे सेट में 26, चौथे सेट में 28 और पांचवें सेट में 26 का स्कोर कर पाए। इससे पहले व्यक्तिगत पुरुष वर्ग में भारतीय निशानेबाज तरुणदीप राय और प्रवीण जाधव हार कर पहले ही बाहर हो चुके हैं। अब पुरुष वर्ग में भारत को अतनु दास से पदक की उम्मीदें हैं।

इसे भी पढ़ें: International Tiger Day 2021: पूरे देश में आज मनाया जा रहा है अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस, जानिए इसका इतिहास और महत्व

अतनु दास का सामना अब ताकाहारू फुरुकावा से होगा

अगले दौर में अतनु दास का सामना जापान के ताकाहारू फुरुकावा से होगा, जो लंदन ओलंपिक के व्यक्तिगत रजत पदक विजेता हैं। फुरुकावा यहां कांस्य पदक जीतने वाली जापान की टीम का हिस्सा भी थे। जिन हयेक ने पहले सेट में आठ और दो नौ अंक से 26 अंक जुटाए, वही दास ने पहले दो प्रयास में आठ अंक से खराब शुरुआत की और अंतिम प्रयास में नौ अंक के बावजूद 25 अंक ही बना पाए, जिससे कोरियाई खिलाड़ी ने पहला सेट जीता। दूसरे और तीसरे सेट 27-27 के समान स्कोर से बराबर रहे, जिससे चौथे सेट से पहले ओ जिन्ह्येक को 4-2 की बढ़त हासिल की थी।

इसे भी पढ़ें: Sanjay Dutt Birthday 2021: आज संजय दत्त हुए 62 साल के, अपने जन्मदिन के मौके पर ट्वीट कर अपनी फिल्म केजीएफ 2 से जुड़ी जानकारी साझा की

करो या मरो के चौथे सेट में जब अतनु दास 17-16 से आगे थे तब ओ जिन्ह्येक हड़बड़ा गए और अंतिम तीर पर छह ही अंक जुटा पाए। दास ने 10 पर निशाना साधकर 27-22 के बड़े अंतर से सेट जीता। पांचवें और निर्णायक सेट में दोनों तीरंदाजों ने 10 और नौ अंक के साथ शुरुआत की, ओ जिन्ह्येक ने अंतिम प्रयास में नौ अंक जुटाए। दास को अंतिम प्रयास पर जीत के लिए 10 अंक की जरूरत थी, लेकिन वह नौ अंक ही जुटा पाए, जिससे सेट 28-28 से बराबर रहा और मुकाबला शूट आउट में खिंच गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.