नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का निधन हो गया। वह 71 साल के थे। वह सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार भी थे। बताया जा रहा है कि अहमद पटेल एक महीना पहले करोना संक्रमित हुए थे 1 अक्टूबर को अहमद पटेल ने खुद अपने कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी ट्वीट कर दी थी। उन्होंने ट्वीट कर कहा मैं कोरोना पॉजिटिव हुआ हूं, मैं निवेदन करता हूं कि जो मेरे संपर्क में आए हो वह खुद को आइसोलेट कर ले।

उनके बाद आज सुबह उनके बेटे फैजल पटेल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी कि उनके पिता अहमद पटेल का निधन हो गया। उनका निधन वेदांता अस्पताल में इलाज के दौरान हुआ। उन्हें 15 नवंबर को आईसीयू में भर्ती कराया गया था। उनको गुजरात के भरूच स्थित उनके गांव में दफनाया जाएगा। उनके माता-पिता को भी वही दफनाया गया था। यह उनकी इच्छा थी। अहमद पटेल के निधन पर पीएम मोदी, राष्ट्रपति, राहुल गांधी, सोनिया गांधी और वरिष्ठ नेताओं ने दुख व्यक्त किया है।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर जताया दुख

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अमित पटेल के निधन पर शोक व्यक्त कर अपने ट्वीट में लिखा कि “वह अहमद पटेल के निधन से बहुत दुखी है। उन्होंने यह भी लिखा कि उन्होंने समाज की सेवा करते हुए सालों गुजारे। पीएम ने आगे लिखा कि तेज दिमाग वाले अहमद पटेल को कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के लिए हमेशा याद रखा जाएगा। मैंने उनके बेटे फैजल से बात की अपनी संवेदना प्रकट की है, मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि अहमद भाई की आत्मा को शांति मिले।”

सोनिया गांधी ने दुख जताया

कांग्रेस अध्यक्षसो गांधी ने अहमद पटेल के निधन पर शोक जाहिर करते हुए कहा कि “श्री अहमद पटेल जी के रूप में मैंने एक सहयोगी को खो दिया है। जिसका पूरा जीवन कांग्रेस को समर्पित था। में एक अपरिवर्तनीय कामरेद, एक वफादार सहयोगी और एक दोस्त खो चुकी हूं। उनके शोक संतप्त परिवार के लिए गहराई से महसूस करें। जिन्हें में अपनी सहानुभूति और समर्थन की सच्ची भावना प्रदान करती हूं।”

वही राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि यह एक दुखद दिन है। श्री अहमद पटेल कांग्रेस पार्टी के एक स्तंभ थे। उन्होंने जीवन भर कांग्रेस मैं जिए और यहीं रहकर सांस ली। कांग्रेस के सबसे कठिन दौर में वह पर्टी के साथ खड़े रहे। वह एक जबरदस्त संपत्ति थे।

71 साल के अहमद पटेल तीन बार लोकसभा के सदस्य और 5 बार राज्यसभा के सदस्य रहे हैं। उन्होंने 2018 में पार्टी का कोषाध्यक्ष नियुक्त किया गया। वे 1993 से राज्यसभा के सांसद थे।

उनकी मृत्यु पर सभी वरिष्ठ नेताओं ने शोक व्यक्त किया है। डॉ मनमोहन सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा, प्रियंका गांधी, दिग्विजय सिंह, राजनाथ सिंह, कपिल सिब्बल, हार्दिक पटेल, मायावती और कई नेताओं ने अपना दुख जाहिर किया और उनकी आत्मा की शांति  और उनके परिवार वालों को हिम्मत के लिए प्रार्थना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *