Punjabi singer Harbhajan Mann: सिंगर एवं अभिनेता इस नए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों के साथ एकता दिखाते हुए शुक्रवार यह ऐलान किया कि वह राज्य सरकार द्वारा ‘शिरोमणि पंजाबी’ पुरस्कार को लेने से इनकार करता हूं। पंजाब भाषा विभाग ने बृहस्पतिवार पंजावी सिंगर हरभजन मान को इस पुरस्कार के लिए चुना गया था। पंजाब विभाग द्वारा साहित्य और कला के 18 विभिन्न श्रेणियों मे साहित्य रत्न और शिरोमणि पुरस्कारों की घोषणा की थी।

हरभजन मान का ट्वीट

अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर कहा “हालांकि मै चुने जाने के लिए आभारी हूं” में विनम्रता पूर्वक भाषा विभाग का शिरोमणि गायक पुरस्कार नहीं ले सकता। लोगों का प्यार मेरे कैरियर का सबसे बड़ा पुरस्कार है। अभी से हम सभी का ध्यान और प्रयास शांतिपूर्ण किसानों के प्रदर्शन के लिए समर्पित होना चाहिए।

किसानों के साथ प्रदर्शन करते नजर आए

एक तस्वीर पोस्ट की है जिसमें मान महिला किसानों के साथ प्रदर्शन में बैठे नजर आ रहे हैं। जिसमें उन्होंने लिखा है कि “जैसे ही मैं बैठा माताजी मेरे पास आई और मुझे पूछा बेटा तू ठीक है चाय पिएगा” यह इस शांतिपूर्ण किसानों के विरोध के मूल में निहित सच्ची कोमल हृदय की भावना है।मैं जागरूकता फैलाने और हमारे किसानों के लिए न्याय मांगने की सराहना करता हूं। बताया जा रहा है कि मान के साथ कई और पंजाबी सिंगर और कलाकार भी किसानों के आंदोलन में का समर्थन कर रहे हैं।

किसान आंदोलन पर एक और ट्वीट

उन्होंने एक और ट्वीट में कहा कि “आपको उनकी ऊर्जा, उत्साह और आशीर्वाद का अनुभव करने के लिए आपको वहां रहना होगा। प्रतिकूल परिस्थितियों में वे मुस्कुराते हैं और खुशी के क्षण साझा करते हैं।

आपको पता है कि दिल्ल -हरियाणा और दिल्ली-उत्तर प्रदेश के बॉर्डर पर पिछले 9 दिनों से किसानों का धरना प्रदर्शन चल रहा है। सिंधु सीमा पर किसानो हजारों की तादाद में बैठे हैं। वह सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानून के वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.