International Men’s Day 2021: हर साल पूरे देश में 19 नवंबर को इंटरनेशनल मेन्स डे मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 1998 में त्रिनिदाद और टोबैगो में हुई थी। डॉ. जीरोम ने ही पुरुष दिवस मनाने की शुरूआत की थी। उन्होंने अपने पिता के जन्मदिन को पुरुष दिवस के रूप में मनाया था। भारत में अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस 2021 पहली बार साल 2007 में सेलिब्रेट किया गया था। जिंदगी में पुरुषों के योगदान को एक नाम देने की जिम्मेदारी डॉ. जीरोम तिलक सिंह ने उठाई थी। इस खास दिन मे लोग एक-दूसरे को मैसेज, इमेज भेजकर और वॉट्सएप, फेसबुक पर स्टेटस लगाकर बधाई देते हैं। आइए जानते हैं International Men’s Day 2021 in hindi|अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस कब और क्यों मनाया जाता है |अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस का इतिहास क्या है?

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस कब मनाया जाता है? (International Men’s Day 2021)

International Men's Day 2021

अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस के बारे में बात करें तो यह दिन हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 7 फरवरी 1992 को थॉमस ओस्टर द्वारा की गई थी।

अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस क्यों मनाया जाता है? (World men’s day 2021)

भले ही आपको ऐसा लगे कि भारत पुरुष प्रधान देश है और यहां महिलाओं को ध्यान में रखते हुए महिला दिवस जैसे उत्सव मनाने जरूरी हैं।लेकिन यकीन मानिए, पुरुष पुरुषों की भी अपनी ऐसी समस्याएं हैं, जिनसे उन्हें जूझना पड़ता है।यकीन न हो तो कुछ आंकड़े आपका ध्यान इस ओर खींचने में मदद कर सकते हैं।76 फीसदी आत्महत्याएं पुरुष करते हैं, 85 फीसदी बेघर लोग पुरुष हैं, 70 फीसदी हत्याएं पुरुषों की हुई हैं, घरेलू हिंसा के शिकारों में भी 40 फीसदी पुरुष हैं। तो अगर महिला और पुरुष को समानता के पैमाने पर रखना है तो महिला दिवस के साथ-साथ पुरुष दिवस भी मनाना जरूरी है।इन्हीं सब कारणों के चलते पुरुष दिवस को भी मनाया जाता है।

इसे भी पढ़ें : भारत का पहला क्रिप्टो बिग बुल 2021 | भारत के पहले क्रिप्टो बिग बुल को देश की राजधानी में सार्वजनिक बिक्री के लिए जारी किया गया, जानिए बिग बुल की कीमत

खास बात ये है कि कुछ साल पहले भारत में मौजूद All India Men’s Welfare Association ने सरकार से एक खास मांग की और कहा कि वो महिला विकास मंत्रालय की तरह ही पुरुष विकास मंत्रालय भी बनाए, साथ ही राष्ट्रीय पुरुष आयोग का गठन हो, और लिंग समानता का मतलब समानता की तरह पेश करे।

नारी के बिना जीवन अधूरा है, लेकिन पुरुष भी उस जीवन को जीवंत बनाने में योगदान देते हैं। मां बच्चे को पेट में पालती है तो पिता भविष्य में आने वाली उसकी जरूरतों को दिमाग में पालता है। बतौर पिता, भाई, दोस्त, दादा, चाचा, मामा, नाना पुरुष कई किरदार हमारे-आपके जीवन में निभाते हैं, जिनकी काफी अहमियत होती है।

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस का इतिहास 

अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस के इतिहास के बारे में बात करें तो यह दिन हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 7 फरवरी 1992 को थॉमस ओस्टर द्वारा की गई थी। अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की के बारे में थॉमस ओस्टर ने एक साल पहले 8 फरवरी 1991 को ही सोच लिया था। इसके बाद 1999 में इस परियोजना को त्रिनिदाद और टोबैगो ने शुरू किया और तबसे यह प्रचलन में आ गया।

भारत में पहली बार 2007 में अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया गया। दरअसल पहले से ही 8 मार्च 1923 से अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता रहा है। ऐसे में ऐसे किसी एक दिन की जरूरत पुरुषों के लिए भी महसूस हुई। इस दिन को मनाने के पीछे एक बड़ा कारण लैंगिक समानता को बढ़ावा देना भी था।

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाने का उद्देश्य

इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य था कि जिन लोगों ने समाज में बदलाव लाने की कोशिश की है उनको सम्मानित करना। साथ ही इस दिवस का उद्देश्य ये भी है कि मर्द जो मानसिक तकलीफें झेल रहे हैं उनको दुनिया के सामने लाना और इस मुद्दे पर एक चर्चा शुरू हो पाए।मर्दों की मानसिक तकलीफों में मानसिक तनाव और मर्दों में बढ़ती आत्महत्या जैसे कुछ मुद्दे शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री फ्री सोलर पैनल योजना क्या है (रजिस्ट्रेशन) | Pradhan Mantri Solar Panel Yojana 2021 | फ्री सोलर पैनल योजना ऑनलाइन आवेदन

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस किन-किन देशों में मनाया जाता है?

International Men's Day 2021

पुरुषों के प्रति होने वाले भेदभाव, उत्पीड़न और उनके अधिकारों के लिए लगभग 80 देशों में अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 7 फरवरी 1992 को थॉमस ओस्टर ने की थी। इस दिवस की परिकल्पना आठ फरवरी 1991 को ही हो गई थी। 1999 में इस परियोजना को त्रिनिदाद और टोबैगो में फिर से शुरू किया गया। 1923 में कई पुरुषों द्वारा 8 मार्च को मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की तर्ज पर अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाए जाने की मांग की गई थी। इसके लिए पुरुषों ने आंदोलन भी किया। 19 नवंबर 1999 में त्रिनिदाद और टोबैगो ने पहली बार अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया। धीरे-धीरे यह दिवस दुनियाभर में मनाया जाने लगा।

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस कैसे मनाते हैं (How To Celebrate International Men’s Day 2021)

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस के प्रस्तावित उद्देश्यों में पुरुषों का और लड़कों के स्वास्थ्य पर ध्यान देना, लिंग संबंधों में सुधार, लैंगिक समानता को बढ़ावा देना और सकारात्मक पुरुष भूमिका मॉडल को उजागर करना शामिल है। यह एक ऐसे अवसर के रूप में भी सुझाया गया है, जिसके तहत पुरुष उनके खिलाफ भेदभाव को उजागर कर सकते हैं और अपनी सकारात्मक उपलब्धियों और समुदायों, कार्य स्थानों, मित्रता, परिवारों, विवाह और बाल देखभाल में योगदान के लिए मना सकते हैं। यदि आप सोच रहे हैं कि दिन कैसे मनाया जाए, तो  इस दिन, पुरुषों के स्वास्थ्य से संबंधित कारणों के लिए दान करें,  इसकी शुरुआत अपने घर से ही हो सकती है। घर के जिम्मेदार पुरुष सदस्य को तोहफे देकर, उनकी पसंद का खाना बनाकर, खूबसूरत संदेश या कविताओं के जरिए उन्हें खास होने का एहसास कराया जा सकता है।

इंटरनेशनल मेंस डे 2021 का थीम (International Men’s day 2021 theme)

अंतरराष्ट्रीय मेंस डे 2021 का थीम है ‘मर्द और औरत के बीच अच्छा रिश्ता’ theme for 2021 is “Better relations between men and women.”

International Men’s Day wishes in Hindi अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस शायरी

1. पुरुष दिवस की पावन बेला में

है यही शुभ संदेश

हर दिन आये

आपके जीवन में

लेकर खुशियाँ विशेष

इसी शुभकामनाओं के साथ

पुरुष दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

2. हर दम खुशियां हो साथ कभी दामन न हो खाली

हम सब की तरफ से अंतर्राष्ट्रीय पुरूष दिवस की बधाई।

3. जिन्दगी को तरस के खुदा ने ये तस्वीर बनाई है

हर दुख बच्चों का खुद पर वो सह लेते हैं

उस खुदा की जीवित प्रतिमा को हम पिता कहते है

पुरुष दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

4. गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा है

सितारों ने आसमान से सलाम भेजा है

मुबारक हो आपको “मेन्स डे”

हमने आपको यह पैगाम भेजा है

विश यू हैप्पी इंटरनेशनल मेन्स डे

5. दिए जलते और जगमगाते रहें

आप हमेशा मुस्कुराते रहे

जब तक जिंदगी है ये दुआ है हमारी

आप ईद के चांद की तरह जगमगाते रहें

आप सभी को पुरुष दिवस की हार्दिक बधाई।

6. दुआओं की सौगात लिए

दिल की गहराइयों से

चांद की रोशनी से

फूलों के कागज़ पर

आपके लिए सिर्फ तीन लफ्ज़

हैप्पी मेन्स डे

Happy International Men’s Day 2021

International Men’s Day Status in Hindi

  1. वही पुरूष अपने जीवन में खुश होता है,
    जिसके पास साहस और पौरूष होता है।
  2. मर्द हर दर्द सहकर भी अपना धैर्य खोता नही है,
    मुसीबत कितनी बड़ी हो पर वो बात-बात पर रोता नही है।
  3. बच्चे रविवार को आराम करते है,
    जबकि पुरूष रविवार को भी काम करते है।
  4. आदमी घर में रहे तो उसे कहते है नाकारा,
    बाहर ज्यादा घूमे तो कहते है उसे आवारा,
    आदमी जिम्मेदारियों के बोझ में ऐसे दबा है
    कि वह खुद की नजरों में है बहुत ही बेसहारा।

FAQ

Q: अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस कब मनाया जाता है?

Ans: ये दिन हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है।

Q: अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस को कितने देशों में मनाया जाता है?

Ans: अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस को 80 देशों में मनाया जाता है।

Q: अंतर्राष्ट्रीय मेंस डे 2021 का थीम क्या है?

Ans: अंतरराष्ट्रीय मेंस डे 2021 का थीम है ‘मर्द और औरत के बीच अच्छा रिश्ता’ theme for 2021 is “Better relations between men and women.”

Q: अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की शुरुआत किसने की थी?

Ans: इसकी शुरुआत 7 फरवरी 1992 को थॉमस ओस्टर ने की थी।

Q: अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य क्या है?

Ans: अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस का मुख्य उद्देश्यों पुरुष और लड़कों के स्वास्थ्य पर ध्यान देना, लिंग संबंधों में सुधार, लैंगिक समानता को बढ़ावा देना और सकारात्मक पुरुष भूमिका मॉडल को उजागर करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.