PM Kisan Samman Nidhi Yojana 10 kist

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 10 kist: पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार किसानों के खाते में सालाना 6000 यानी 2000 रुपये की तीन किस्त भेजती है। किसानों के खाते में 10वीं किस्त (PM Kisan 10th Installment) आने वाली है लेकिन, कई किसानों के खाते में अभी तक 9वीं किस्त नहीं आई है। हालांकि, अब तक इस योजना के पात्रता को लेकर कई सवाल भी सामनेे आए हैं जैसे कि क्या पति-पत्नी दोनों पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठा सकते हैं? आइये जानते हैं पीएम किसान सम्मान निधि योजना के नियम क्या है?

Table of Contents

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि क्या है? (Pradhanmantri Kisan Samman Nidhi Yojana)

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 10 kistप्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि (PM-KISAN) कृषि और संबद्ध गतिविधियों के साथ-साथ घरेलू जरूरतों के लिए विभिन्न आदानों की खरीद के लिए अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए देश के सभी भूमिहीन किसानों के परिवारों को आय सहायता प्रदान करने के लिए एक नई केंद्रीय क्षेत्र योजना है। इस योजना के तहत, लक्षित लाभार्थियों को लाभ हस्तांतरण के लिए संपूर्ण वित्तीय दायित्व भारत सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

की शुरुआत वर्ष 2018 के रबी सीजन में की गई थी। उस समय सरकार ने इसके लिए 20 हजार करोड़ रुपये का अग्रिम बजटीय प्रावधान करा लिया था, जबकि योजना पर सालाना खर्च 75 हजार करोड़ रुपये आने का अनुमान था। लेकिन देश में किसानों की संख्या अधिक होने के कारण एवं इस योजना में किसानो की दिलचस्पी होने के कारण सालाना खर्च में बढ़ोतरी हुई है।

छोटे किसानों के लिए यह योजना अत्यन्त उपयोगी सिद्ध हुई है। बुवाई से ठीक पहले नगदी संकट से जूझने वाले किसानों को इस नगदी से बीज, खाद और अन्य इनपुट की उपलब्धता में सुविधा हो रही है।

इसे भी पढ़ें: International Day of the Girl Child 2021 in Hindi | अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस कब और क्यों मनाया जाता है, जानिए इतिहास

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत 6,000 रु प्रति वर्ष प्रत्येक पात्र किसान को तीन किश्तों में भुगतान किया जाता है और सहायता राशि सीधे उनके बैंक खातों में जमा हो जाती है। अर्थात प्रत्येक 4 माह के बाद किसान को 2 हजार की सहायता राशि दी जा रही है।

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 10 kist: पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ किसे नहीं मिलेगा ?

  • पति-पत्नि दोनों पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ (PM Kisan Benefits) नहीं उठा सकते हैं।
  • अगर कोई ऐसा करता है तो उसे फर्जी करार देते हुए सरकार उससे रिकवरी करेगी।
  • इसके अलावा भी कई ऐसे प्रावधान हैं जो किसानों को अपात्र बनाते हैं।
  • किसान परिवार में अगर कोई टैक्स देता है तो इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • यानी पति या पत्नी में से कोई पिछले साल इनकम टैक्स भरा है तो उन्हें इस योजाना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • अगर कोई किसान अपनी खेती की जमीन का इस्तेमाल कृषि कार्य में न कर दूसरे कामों में कर रहे हैं या दूसरों के खेतों पर किसानी का काम तो करते हैं, और खेत उनका नहीं हैं। ऐसे किसान भी इस योजना का लाभ उठाने के हकदार नहीं हैं।
  • यदि कोई किसान खेती कर रहा है, लेकिन खेत उसके नाम नहीं होकर उसके पिता या दादा के नाम है तो उन्हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • इसके अलावा वकील, डॉक्टर, सीए भी योजना से बाहर रखे गए हैं।
  • अगर कोई खेती की जमीन का मालिक है, लेकिन वह सरकारी कर्मचारी है या रिटायर हो चुका हो, मौजूदा या पूर्व सांसद, विधायक, मंत्री है तो ऐसे लोग भी किसान योजना के लाभ के लिए अपात्र हैं।

किसे मिलेगा पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ (Pm Kisan Status)

  • इस योजना का लाभ दो हेक्टेयर खेती वाली जमीन से कम रकबा वाले किसानों को दिए जाने का प्रावधान है।
  • राज्य सरकारें ऐसे किसानों की जोत के साथ उनके बैंक खाते और अन्य ब्यौरा केंद्र सरकार को मुहैया कराती है।
  • उसकी पुष्टि के बाद केन्द्र सरकार ऐसे किसानों के बैंक खातों में सीधे धन जमा करती है।
  • योजना की सफलता में डिजिटल प्रणाली की भूमिका अहम साबित हो रही है।

रजिस्टर्ड किसानों को मिलेगी राशि (Pm Kisan Registration)

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से किसानों के खाते में सम्मान निधि भेजने की तैयारी शुरू हो चुकी है। दावा किया जा रहा है कि 15 दिसंबर तक पीएम किसान योजना (PM Kisan Scheme) के तहत रजिस्टर्ड किसानों के खाते में सम्मान निधि ट्रांसफर कर दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें: Allahabad University Recruitment 2021: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में टीचर के पदों पर निकली बहाली, जल्द करें करें आवेदन

Pm kisan samman Nidhi सालाना मिलते हैं 6 हजार रुपये

अगर आप किसान हैं, लेकिन अब तक किसान योजना (Kisan Yojana) से पंजीकृत नहीं हैं तो जल्द से जल्द इसमें रजिस्ट्रेशन करा लें, ताकि आप भी सम्मान निधि का लाभ उठा सकें। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार ने अब तक 11.37 करोड़ किसानों को 1.58 लाख करोड़ रुपये भेजे हैं। केंद्र सरकार योजना के तहत किसानों के अकाउंट में सालाना 2,000 रुपये की तीन किस्त यानी 6000 रुपये भेजती है।

इस तरह चेक करें पीएम किसान सम्मान निधि योजना स्टेटस (Pm kisan status check 2021 list)

  • आप योजना (Pm Kisan Yojana) के तहत रजिस्टर्ड हैं तो आप 10वीं किस्त का स्टेटस इस तरह चेक कर सकते हैं।
  • सबसे पहले http://pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • यहां पर ‘Farmers Corner’ पर क्लिक करें।
  • इसके बाद Beneficiary Status पर क्लिक करें।
  • इसमें अपने इलाके से जुड़ी जानकारी जैसे- राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का नाम भरें।
  • फिर ‘Get Report’ पर क्लिक करें।
  • आपको एक लिस्ट दिखेगी।
  • इसमें आप अपनी किस्त का Status देख सकते हैं।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट मे नाम नहीं होने पर ऐसे करें शिकायत

अगर आपका नाम पीएम किसान सम्मान योजना में नहीं है तो आप इस हेल्पलाइन नंबर 011- 2430 0606 पर कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।आप ईमेल के जरिए भी pmkisan-ict@gov.inपर अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

FAQ

Q:प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत कब हुई?

A: 1 दिसंबर 2018

Q: पीएम किसान योजना के लाभ क्या हैं?

A: Pm Kisan योजना के तहत, सभी किसानों के परिवार को हर चार महीने में 2000 रुपये की तीन समान किश्तों में देय प्रति परिवार 6000 रुपये का वित्तीय लाभ प्रदान किया जाएगा।

Q: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभ पाने के लिए कौन पात्र हैं?

A: सभी भूमिहीन किसान परिवार, जिनके नाम पर खेती योग्य भूमि है, योजना के तहत लाभ पाने के लिए पात्र हैं

Q: क्या आयकरदाता किसान योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र है?

A: नहीं, यदि परिवार का कोई सदस्य पिछले मूल्यांकन वर्ष में आयकर दाता है, तो परिवार योजना के तहत लाभ के लिए पात्र नहीं है

Q: पीएम किसान सम्मान निधि योजना हेल्पलाइन नंबर क्या है?

A: हेल्पलाइन नंबर 011- 2430 0606

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *