नई दिल्ली: भारत अपनी शेड्यूल इंटरनेशनल पैसेंजर फ्लाइट्स को 31 जनवरी, 2022 तक निलंबित रखेगा। इसकी जानकारी गुरुवार को एविएशन रेगुलेटरी बॉडी DGCA ने दी। International flight latest update डीजीसीए ने कोरोना वायरस वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच एक दिसंबर को फैसला लिया था कि वह निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को 15 दिसंबर से बहाल नहीं करेगा।उससे एक सप्ताह पहले ही उसने घोषणा की थी कि वह निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करेगा।

International flight latest update DGCA ने एक बयान में कहा

International flight latest update

DGCA ने एक बयान में कहा कि पहले के आदेश में आंशिक बदलाव करते हुए भारत से आने-जाने वाली इंटरनेशनल कमर्शियल पैसेंजर उड़ानों के निलंबन को 31 जनवरी तक बढ़ाने का फैसला किया गया है।यह प्रतिबंध इंटरनेशन ऑल-कार्गो ऑपरेशन और रेगुलेटर की तरफ से स्पेशल अप्रूव उड़ानों पर लागू नहीं होंगे। मामले के आधार पर चुनिंदा रूट पर इंटरनेशनल शेड्यूल उड़ानों की भी अनुमति दी जा सकती है।

इसे भी पढ़ें: मारुति सुज़ुकी (Maruti Suzuki) 2022 तक लॉन्च करेगी स्ट्रॉन्ग हाइब्रिड कार | 2025 तक देश में इलेक्ट्रिक कार लाने वायदा

कार्गो प्लेन पर नहीं लागू होगा आदेश

डीजीसीए ने गुरुवार को कहा, ‘भारत से आने-जाने वाली इंटरनेशनल पैसेंजर फ्लाइट्स के निलंबन को 31 जनवरी, 2022 को रात 11 बजकर 59 मिनट तक बढ़ाने का फैसला किया है।’ इसमें कहा गया है कि यह निलंबन सभी अंतरराष्ट्रीय कार्गो प्लेन के संचालन और विशेष रूप से डीजीसीए द्वारा एप्रूव्ड उड़ानों पर लागू नहीं होगा। डीजीसीए ने कहा, ‘निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को सक्षम अथॉरिटी द्वारा मामले के आधार पर चयनित रूट पर परमीशन दी जा सकती है।’ एक अन्य ट्वीट में, इसने स्पष्ट किया कि मौजूदा बबल एग्रीमेंट के तहत सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 31 जनवरी तक चलती रहेंगी।

इसे भी पढ़ें: BRO Recruitment 2021: बॉर्डर रोड्स ऑर्गेनाइजेशन में इन पदों पर जल्द होगी भर्ती, 10वीं पास जल्द करें अप्लाई

32 देशों के साथ है हवाई बबल समझौता

कोरोना वायरस महामारी के कारण भारत में 23 मार्च, 2020 से निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवाएं निलंबित चल रही हैं। हालांकि वंदे भारत मिशन के तहत मई 2020 से और जुलाई 2020 से चुनिंदा देशों के साथ द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित हो रही हैं। भारत ने अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, केन्या, भूटान और फ्रांस सहित लगभग 32 देशों के साथ हवाई बबल समझौते किए हैं। दो देशों के बीच एक बबल समझौते के तहत, विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें उनकी एयरलाइनों द्वारा उनके क्षेत्रों के बीच संचालित की जा सकती हैं। डीजीसीए ने पहले 26 नवंबर को घोषणा की थी कि भारत 15 दिसंबर से निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें फिर से शुरू करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.