Tesla को लगा झटका

नई दिल्ली: Tesla को लगा झटका अमेरिका की ऑटो सेफ्टी एजेंसी नेशनल हाईवे ट्रेफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन (NHTSA) ने बुधवार को टेस्ला (Tesla) से 1,58,000 कारों को वापस बुलाने के लिए कहा है। जिसमें टेस्ला का मॉडल S और मॉडल X शामिल है। मीडिया कंट्रोल यूनिट में खामी के कारण इन्हें रिकॉल करने को कहा गया है। इसका कारण है टचस्क्रीन डिस्पले काम नहीं कर रहा है। जिससे सेफ्टी रिक्स बढ़ रहा है।

Tesla को लगा झटका

Tesla को लगा झटका सुरक्षा जांच के बाद

एक ऑटो सुरक्षा एजेंसी ने नवंबर माह में सुरक्षा जांच करने के बाद टेस्ला से निवेदन किया था, कि वह 2012 से 2018 के बीच बनी मॉडल S और 2016 से 2018 के बीच बनी मॉडल X की गाड़ियों को अस्थाई रूप से बंद कर दें। क्योंकि इन सभी गाड़ियों में मोटर वाहन सुरक्षा रूल से संबंधित कई डिफेक्ट पाए गए हैं।

नेशनल हाईवे ट्रेफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन ने कहा

नेशनल हाईवे ट्रेफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन ने कहा कि टेस्ला ने अपनी वाहनों में कुछ इशु को कम करने का पूरा प्रयास किया है। कंपनी ने अपनी गाड़ियों में कई Over-the-Air अपडेट लागू किए हैं। लेकिन एजेंसी के मुताबिक ये अपडेट अपर्याप्त है। कंपनी को इन वाहनों से जुड़े अपडेट्स पर और काम करना चाहिए।

वही NHTSA ने यह भी कहा कि कानून के तहत वाहन निर्यात कंपनियों को सुरक्षा से संबंधित इशु को दूर करने के लिए गाड़ियों को वापस बुलाना जरूरी है।https://www.fastkhabre.com/archives/2894

टेस्ला ने अभी तक इस अनुरोध पर कोई प्रतिक्रिया या जवाब नहीं दिया है। लेकिन कंपनी को 27 जनवरी तक NHTSA को जवाब देना है। अगर टेस्ला गाड़ियों को वापस लेने के बात पर सहमत नहीं है तो उसे एजेंसी को अपने निर्णय के बारे में पूरी जानकारी देनी होगी। जिस गाड़ियों को वापस लेने की बात हो रही है। उसके टचस्क्रीन फेलियर की वजह से कई सेफ्टी इशू पैदा हो रहे हैं। जिसमें बैकअप कैमरा इमेज को नुकसान हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.