Kayakalp Yojana 2022: सरकारी स्कूलों का कायाकल्प करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीड़ा उठा लिया है और इसी क्रम में उन्होंने कायाकल्प योजना (Kayakalp Yojana 2022) का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत कानपुर ( देहात ) के 1933 सरकारी प्राथमिक और जूनियर स्कूलों को निजी स्कूलों की तर्ज पर विकसित किया जायेगा और उनमें सभी प्रकार की सुविधाएं विकसित  करके बच्चो को सरकारी स्कूल में दाखिला लेने और पढ़ रहे बच्चो को वही बने रहने हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा।  सरकारी स्कूलों की शक्ल सूरत सुधारने हेतु मुख्यमंत्री द्वारा की गयी इस पहल का सभी लोग स्वागत कर रहे हैं। आइए जानते हैं ऑपरेशन कायाकल्प क्या है? कायाकल्प योजना क्या है? उत्तर प्रदेश कायाकल्प योजना क्या है और उसके उद्देश्य

ऑपरेशन कायाकल्प क्या है? Kayakalp Yojana 2022 in hindi

ऑपरेशन कायाकल्प क्या है

कायाकल्प योजना के अंतर्गत सरकारी स्कूलों को भी निजी स्कूलों की भांति चमकाया जायेगा क्यूंकि सरकारी स्कूलों की जर्जर हालत, सफाई की कमी, पानी की समुचित व्यवस्था न होने, रंग रोगन समय समय पर ना होने से और मैदान जैसी व्यवस्था न होने से न सिर्फ अभिभावक बच्चो को स्कूल भेजने से कतराते है बल्कि बच्चे भी मन लगाकर नहीं पढ़ते। इस व्यवस्था को बदलने के लिए कायाकल्प योजना शुरू की गयी है जिसके तहत सरकारी स्कूलों में शौचालय, पीने के पानी हेतु समुचित व्यवस्था, जर्जर बिल्डिंगो में सुधार, रंग रोगन, टाइल्स बिछाना, स्कूल के चारो और बॉउंड्री वाल, दिव्यांग रैंप, अच्छी गुणवत्ता वाली ब्लैकबोर्ड, एवं वृक्षारोपण जैसे कार्य किये जायेंगे जिससे न सिर्फ बच्चे सरकारी स्कूलों में आने को प्रोत्शाहित होंगे बल्कि मन लगाकर अध्ययन भी करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: [रजिस्ट्रेशन] रेल कौशल विकास योजना 2022 | Rail kaushal vikas yojana kya hai | रेल कौशल विकास योजना से बेरोजगार युवा युवतियों को रोजगार पाने का सुनहरा मौका

कायाकल्प योजना का उद्देश्य / कायाकल्प योजना प्राइमरी स्कूल

इस योजना से उन गरीब परिवारों जिनके बच्चे आर्थिक समस्या के कारण  महंगे निजी विद्यालयों में दाखिला नहीं ले पाते है उनके लिए उम्मीद की किरण जगी है।  अब उन्हें भी आस है की सरकारी स्कूलों में   निजी स्कूलों जैसी सुविधाएं होने के कारण उनके बच्चे भी सुनहरा भविष्य बनाने में समर्थ होंगे।  आम आदमी जो निजी स्कूलों की महंगी फीस देने में असमर्थ होने के कारण हताश थे उनके लिए ये योजना किसी वरदान सरीखी है।

इस योजना के तहत कानपुर ( देहात ) के 1933 सरकारी प्राथमिक और जूनियर स्कूलों को निजी स्कूलों की तर्ज पर विकसित किया जायेगा और उनमें सभी प्रकार की सुविधाएं विकसित  करके बच्चो को सरकारी स्कूल में दाखिला लेने और पढ़ रहे बच्चो को वही बने रहने हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा।  सरकारी स्कूलों की शक्ल सूरत सुधारने हेतु मुख्यमंत्री द्वारा की गयी इस पहल का सभी लोग स्वागत कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: अन्नपूर्णा दूध योजना स्कीम 2022 | इस राज्य के स्कूलो में बच्चों को मिलेगा सप्ताह में 3 दिन दूध, जानिए अन्नपूर्णा दूध योजना के उद्देश्य

कायाकल्प योजना के लाभ, Kayakalp Yojana 2022 profit

  • सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को योजना के तहत स्कूल की नई रूप रेखा देखने को मिलेगी।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से बच्चे पढाई के लिए आकर्षित होंगे एवं सरकारी स्कूलों में सभी सुविधा उचित प्रकार से उपलब्ध होने पर बच्चों की संख्या में वृद्धि होगी।
  • यह सरकारी स्कूलों की स्थिति में सुधार करने के लिए योगी सरकार के द्वारा एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।
  • सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले सभी विद्यार्थी उत्साह के साथ पढाई हेतु प्रेरित होंगे।

इसे भी पढ़ें: अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना 2022 | Antyodaya Anna Yojana Kya hai in hindi | ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया , स्टेटस, लाभार्थी सूची

Kayakalp Yojana 2022 में शामिल होने वाले काम

  • पानी की समुचित व्यवस्था
  • ख़राब हैंडपंपों को सही करना
  • सुरक्षा हेतु बॉउंड्री वाल
  • रंग रोगन के साथ आकर्षक पेंटिंग जैसे कार्य इस योजना का हिस्सा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.