4G Electricity Meter :  बिजली बिल की हर महीने टेंशन रहती है। अब बिल से ज्यादा चर्चा में नए मीटर हैं। क्योंकि 4G Electricity Meter का Concept काफी चर्चा में है। उत्तर प्रदेश सरकार ने 1 जुलाई से 4G Meter लगवाने भी शुरू कर दिए हैं।

इस खास बात है कि इन मीटर के लगने के साथ ही बिजली का बिल भी नहीं आया करेगा। क्योंकि मीटर लगने के साथ ही आपको मीटर पहले ही रिचार्ज करना होगा। यानी इस 4G smart meter in hindi आपको बिजली बिल से तो मुक्ति मिलने वाली है।

जानिए कैसे काम करता है 4G Electricity Meter 

4G Meter के काम करने का तरीका बिल्कुल स्मार्टफोन की तरह है। इसमें आपको वैसे ही रिचार्ज करवाना होगा जैसे अपने DTH, Prepaid Plan खरीदते हैं। यही वजह है कि ये लंबे समय से काफी चर्चा में बने हुए हैं। बिजली कंपनियों को को उम्मीद है कि ऐसे मीटर लगने के बाद बिजली चोरी की शिकायतों में भी कमी आएगी। साथ ही इससे बिजली कंपनियों को पड़ने वाले बोझ से भी बचा जाएगा।

कई केस में देखा जाता है कि बिजली उपभोक्ता बिल देरी से भरते हैं या नहीं भी भरते हैं। ऐसे में उनसे कई बार पैसा निकलवाने में देरी होने की वजह से बिजली कंपनियों को काफी नुकसान झेलना पड़ता है, लेकिन अब नए मीटर वाले केस में बिल की कोई टेंशन नहीं होगी। ये पूरी तरह ऑटोमैटिक मीटर की तरह काम करेंगे। यानी आपको पहले ही बिजली के मीटर को रिचार्ज करवाना होगा। आपके अकाउंट में पैसे नजर आएंगे।

कब से लगने शुरू हो जाएंगे 4G Meter

4G Meter की शुरुआत उत्तर प्रदेश बिहार और अन्य राज्यों में हो चुकी है। बिजली कंपनियां अब पुराने बिजली के मीटर हटाकर इन्हें लगा रही है। उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से पहले ही बिजली कंपनियों को चुनिंदा इलाकों में 4G Meter लगाने की इजाजत दे दी गई थी। साथ ही ऐसे मीटर को आप घर बैठे रिचार्ज भी कर पाएंगे। इसके लिए कई अन्य पेमेंट ऐप्स भी काम कर रही है। यूजर्स अपने CA Number को दर्ज करके आसानी से उसमें पैसे डलवा सकेंगे। इसके बाद जब बैलेंस कम होगा तो उपभोक्ताओं को मैसेज भेजकर बताया भी जाएगा।

इसे भी पढ़ें: Mahindra Scorpio-N की डिलीवरी का इंतजार हुआ खत्म

WhatsAPP का नया फीचर्स 2022

Free travel in India 2022 : फ्री मे ले भारत के इन 5 शहरों में घूमने का मजा , खाना रहना सब बिल्कुल मुफ्त

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.