Parenting Tips: इन आसान टिप्स की मदद से बच्चों को मोबाइल की जिद्द करते रहने से रोका जा सकता है। मोबाइल और इंटरनेट के इस युग में स्मार्टफोन हमारे जीवन का एक बेहद जरूरी हिस्सा हो गया है। इसके इस्तेमाल से जहां एक ओर रोजमर्रा के कई कामकाज आसान हो गए हैं, वहीं एक दूसरी समस्या भी पैदा हो गई है। ये समस्या है नई पीढ़ी के बच्चों का मोबाइल फोन से चिपके रहना। लगभग हर माता-पिता को ये परेशानी है कि उनका बच्चा दिनभर मोबाइल फोन (Mobile Phone) पर व्यस्त रहता है। ऐसा देखने को मिल रहा है कि बच्चों में ये आदत अब लत बनती जा रही है। इससे न केवल उनका विकास अवरुद्ध हो रहा है, बल्कि कई मानसिक परेशानियां भी जन्म ले रही हैं। आज हम आपको कुछ ऐसी टिप्स बताएंगे जिनसे बच्चे को मोबाइल फोन से दूर रखने में मदद मिल सकती है।

Parenting Tips | बच्चों को मोबाइल चलाने से कैसे रोकें | How to Stop Kids from Using Phone

पिछले लगभग दो सालों में बच्चे कोरोना के चलते घरों में कैद रहे हैं। जाहिर है कि उनमें मैदानी खेल खेलने की आदत कम हो गई है। ऐसे में जरूरी है कि उन्हें फिर से घर से बाहर मैदान में जाकर खेलने के लिए प्रेरित करें। संभव हो तो खुद भी उनके साथ कुछ ऑउटडोर गेम्स में शामिल हों। इस आसान टिप्स की मदद से बच्चों को मोबाइल की जिद्द करते रहने से रोका जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: Sugarcane Juice Benefits | गन्ने के रस पीने के अद्भुत फायदे | यूरिन से जुड़ी समस्याओं में है काफी फायदेमंद

Parenting Tips प्रकृति व पर्यावरण से प्रेम

Parenting Tips

बच्चों को प्रकृति व पर्यावरण से जोड़ने का प्रयास करें। उन्हें जंगल, प्राणियों और पानी के महत्व के बारे में जागरूक करें। उन्हें ऐसी जगहों की सैर कराएं जहां वे कुदरती खूबसूरती को देख और महसूस कर सकें। इसके लिए किसी महंगे हिल स्टेशन या टूरिस्ट स्पॉट पर जाना जरूरी नहीं है। बच्चों को घर के आस पास के किसी पार्क या तालाब पर भी ले जा सकते है। जहां बच्चे जाकर इंजॉय करें और मोबाइल से दूर होता है खेलकद में दिलचस्पी ले।

घर के साधारण कामों में मदद लें

Parenting Tips

घर के साधारण कामकाज जैसे कपड़े सुखाना, उन्हें प्रेस करना, अपना कमरा साफ करना, पानी भरना, पौधों को पानी देना आदि में बच्चों की मदद लें। उनकी रुचि के अनुसार उन्हें किचन के काम में सहायता करने को कहें। इससे बच्चे न केवल मोबाइल से दूर रहेंगे, बल्कि खेल-खेल में कई काम भी सीख जाएंगे। बच्चों को पेंटिंग करने के लिए भी जागरूक करें इससे उसे पेंटिंग में दिलचस्पी भी होगी और वह मोबाइल से दूर हट के कुछ नया करेगा।

इसे भी पढ़ें: Chiku Khane Ke Fayde | चीकू खाने के इस अद्भुत फायदे को जानकर हो जाएंगे हैरान | चीकू के फायदे और नुकसान

किताब में जगाए रुचि

इंटरनेट के इस दौर में लोगों की पुस्तकों से दूरी बढ़ती जा रही है। ऐसे में जरूरी है कि हम स्वयं अच्छी किताबें पढ़ने की आदत डालें और बच्चों को भी इसके लिए प्रेरित करें। बच्चों को उनकी रुचि के मुताबिक अच्छी और रोचक पुस्तकें उपलब्ध कराएं। उनसे पुस्तकों के संबंध में चर्चा भी करें। इससे उनमें किताबों के प्रति रुचि जागेगी। जो बच्चों की शिक्षा के लिए काफी फायदेमंद ही होगा।

आउटडोर गेम्स खेलने को कहें

कोरोना वायरस महामारी के बाद लॉकडाउन के कारण बच्चे लंबे वक्त तक घरों में कैद रहे, जिसकी वजह से उन्हें मोबाइल की आदत हो गई। ‌ इस दौरान ऑनलाइन लर्निंग में सेलफोन का इस्तेमाल मजबूरी बन गई। इसके साथ-साथ बच्चों को बाहर खेलने की आदत भी छूट गई। ऐसे में पैरेंट की जिम्मेदारी है कि उन्हें आउटडोर गेम्स के लिए प्रोत्साहित करें ताकि मोबाइल से उनका ध्यान हट सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.