हैलो दोस्तों आज हम इस लेख के माध्यम से नाभि में तेल के फायदे जानेंगे, बचपन से ही नानी और दादी हमारी नाभि पर तेल लगाती आ रही हैं। बचपन में बच्चे की मालिश करते हुए उसकी नाभि में तेल जरूर लगाया जाता है। वहीं आयुर्वेद में भी कई छोटी-बड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए नाभि पर तेल लगाने की सलाह दी जाती है। इसे बेली बटन थेरेपी भी कहा जाता है।

नाभि को शक्ति का केंद्र बिंदु माना जाता है। इससे हमारे शरीर की कई तंत्रिकाएं आपस में जुड़ी होती हैं। इसलिए नाभि पर तेल डालने से शारीरिक और मानसिक कई तरह की समस्याओं में भी आराम मिलता है। इस आर्टिकल में आपको नाभि में तेल लगाने के कई सारे फायदे बताए जा रहे हैं, जिन्हें जानकर आपको हैरानी होगी।

नाभि में तेल के फायदे

नाभि में तेल के फायदे – Navi mei tel lagane ke fayde

इस लेख में नाभि में तेल लगाने के फायदे के वारे में डिटेल में बताया जा रहा है। Navi mein tel lagane ke fayde in hindi में नीचे पूरा पढ़ें,

  • सर्दियों में नाभि में रोजाना तेल डालने फटे हुए होंठ नर्म और गुलाबी हो जाते हैं।
  • इससे आंखों की जलन, खुजली और सूखापन भी ठीक हो जाता है।
  • नाभि में तेल लगाने से शरीर के किसी भी भाग में सूजन की समस्या खत्म हो जाती है।
  • सरसों का तेल नाभि पर लगाने से घुटने के दर्द में  राहत मिलती है।
  • नाभि पर नारियल और सरसो का तेल लगाने से हमारे चेहरे की रंगत बढ़ जाती है, इसलिए आपको रोजाना नाभि पर नारियल और सरसो का तेल लगाना चाहिए।
  • नाभि पर तेल लगाने से पिंपल्स और दाग-धब्बे भी ठीक होते है।
  • नाभि पर सरसो तेल लगाने से हमारा पाचन तंत्र भी मजबूत होता है।
  • बादाम का तेल लगाने से त्वचा की रंगत निखर जाती है।
  • नाभि में तेल डालने से पेट के दर्द में राहत मिलती है।
  • इससे अपच, फ़ूड पॉइजनिंग, दस्त, मतली जैसी बीमारियों से भी राहत मिलती है।
  • अगर आप मुहांसों की समस्या से परेशान हैं तो आपको नीम के तेल को नाभि में लगाना चाहिए। इससे आपके कील-मुहांसे दूर होने लगेंग।
  • नाभि प्रजनन तंत्र से जुड़ी हुई होती है। इसलिए नाभि में तेल लगाने से प्रजनन क्षमता भी विकसित होती है।
  • कोकोनट या ऑलिव आइल को नाभि में लगाने से महिलाओं के हार्मोन संतुलित होते हैं और गर्भधारण की संभावना बढ़ती है।
  • नाभि में तेल लगाने से पुरुषों के शरीर में शुक्राणुओं की वृद्धि और सुरक्षा होती है।
  • माहवारी से संबंधित समस्याओं से आजकल हर दूसरी-तीसरी महिला ग्रस्त मिलती है। अगर पीरियड्स के दौरान ज्यादा दर्द हो तो रूई के फाहे में थोड़ी सी ब्रांडी लगाकर नाभि में लगाने से ये दर्द तुरंत दूर हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: Gond ke Laddu ki Recipe | सर्दियों में गोंद के लड्डू खाने के फायदे , जाने बनाने की आसान विधि

नाभि में तेल लगाने के नुकसान

नाभि में तेल के फायदे

  • नाभि में ज्यादा तेल लगाने से चेहरे पर अवांछित बाल निकल आते हैं।
  • नाभि में अघिक नारियल के तेल लगाने से होते हैं मुंहासे ।
  • नाभि में तेल पेट की समस्या भी पैदा करता है।
  • नाभि में तेल लगाने से हो सकती है एलर्जी की समस्या।

FAQ

Q: नाभि में कौन सा तेल लगाने से सुंदरता बढ़ती है?
Ans: नारियल तेल की 5 से 6 बूंदे नाभि में डालने से प्रजनन क्षमता बढ़ती है। इसके साथ ही आंखों के सूखेपन से भी छुटकारा मिलता है। अगर आप चेहरे पर मौजूद पिंपल्स से नैचुरल तरीके से छुटकारा पाना चाहते हैं तो नीम के तेल की कुछ बूंदे रोजाना नाभि में डालें। आप सरसों के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते है।

Q: नाभि में कौन कौन सा तेल लगाना चाहिए?

Ans: इसमें आप सरसों (Mustard oil), नारियल (Coconut Oil) , जैतून (Olive oil) आदि कोई भी तेल लगा सकते हैं।
Q: नाभि में तेल कब डालना चाहिए?
Ans: रात में सोने से पहले नाभि में तेल डालना चाहिए।
Q: नाभि में तेल लगाने का तरीका 
 
Ans: नाभि पर तेल लगाने के लिए सबसे पहले आप नाभि के आसपास तेल की कुछ बूंदें डालकर उसे उंगलियों की मदद से नाभि पर लगा लें। इसके अलावा रूई के फाहे में तेल की कुछ बूंदें डालकर उसे नाभि में लगाकर कम से कम 20 मिनट के लिए छोड़ दें।
Disclaimer : इस आर्टिकल में नाभि में तेल के फायदे के वारे में बताया गया है। ये जानकारी एक सामान्य ज्ञान पर आधारित है। आप चाहे तो इस उपाय को अपनाने से पहले डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *